Wednesday, 6 November 2019

श्मशान घाट से लौटने के बाद क्यों नहाते हैं लोग, जानिए इसके पीछे का कारण



हिंदू धर्म में किसी व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसके शव की शव यात्रा निकालकर शव का दाह संस्कार करने का नियम है। जब शव का दाह संस्कार कर दिया जाता है तो लोग घर में घुसने से पहले पहने हुए कपड़ों को त्याग कर सबसे पहले नहाते हैं।


क्या कभी आपने विचार किया है कि ऐसा क्यों किया जाता है ? आज हम आपको इसके पीछे का धार्मिक और वैज्ञानिक कारण बताएंगे। आइए विस्तार से जानते हैं। श्मशान घाट से लौटने के बाद क्यों नहाते हैं लोग ? जानिए इसके पीछे का कारण।

रोचक ख़बर -  हनी ट्रैप... कोर्ट रूम लाइव; जज ने महिलाओं के चेहरे से नकाब हटवाए, नाम पूछे, बोले- आपको ......

धार्मिक कारण के अनुसार शमशान भूमि पर नकारात्मक ऊर्जा होती है। जो मनुष्य के शरीर में प्रवेश कर सकती है। इसलिए नकारात्मक उर्जा के प्रभाव से बचने के लिए पुरुष घर आकर नहाते हैं। औरतें पुरुषों के मुकाबले ज्यादा भावुक होने की वजह से श्मशान घाट जाने से रोका जाता है। श्मशान घाट में मृतक आत्मा का सूक्ष्म शरीर कुछ समय के लिए मौजूद रहता है। जो वहां पर मौजूद लोगों पर नुकसानदायक प्रभाव डाल सकता है।

रोचक ख़बर - शाहरुख खान का ट्वीट हुआ वायरल, कहा- मैं दुनिया में इकलौता ऐसा इंसान हूं जो.

वैज्ञानिक कारण के अनुसार जब किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके शरीर में कई प्रकार के बैक्टीरिया पनप जाते हैं। जो जीवित व्यक्ति के शरीर में फैल सकते हैं। और कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। इस वजह से अंतिम संस्कार के बाद नहाना जरूरी हो जाता है।

No comments:

Post a Comment