Wednesday, 9 October 2019

सीएम नीतीश पर बीजेपी का बड़ा हमला- रावण जलाने वालों को अगले साल जनता खुद जला देगी


पटना : बिहार में कल रावण दहन तो हो गया, लेकिन बड़ा सियासी तूफान खड़ा कर गया है. हर साल विजयादशमी के मौके पर होने वाला ‘रावण वध समारोह’ कहने को तो सांस्कृतिक आयोजन है, लेकिन नेताओं की मौजूदगी से इस पर राजनीतिक रंग भी चढ़ता है.
लिहाजा भारी भीड़ के बीच होने वाले इस समारोह में सत्ताधारी दल के नेता जरूर जुटते हैं! लेकिन इस बार सत्ताधारी बीजेपी का एक भी विधायक या एमपी नहीं दिखा.
इस दशहरा के मौके पर बीजेपी और जेडीयू के बीच की तल्खी खुलकर सामने आ गयी है. पहले तो रावण दहन समारोह से बीजेपी के तमाम नेता नदारद रहे उसके बाद अब पाटलीपुत्रा से बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने नीतीश कुमार पर बेहद सधे अंदाज में निशाना साधा है.
पहले तो भाजपा सांसद रामकृपाल यादव ने रावण वध में शामिल नहीं होने पर सफाई देते कहा कि दानापुर में जो बाढ़ आई है, उसी वजह से वह दशहरा महोत्सव में शामिल नहीं हुए थे. सांसद ने कहा कि हम लोगों को न तो दशहरा सूझ रहा है और न रावण वध का मेला सूझ रहा है. लाखों लोग, जो घर में कैद हो गए थे, उनकी चिंता थी.
अगले ही पल रामकृपाल यादव ने बिना नाम लिए नीतीश कुमार पर बड़ा हमला बोल दिया. उन्होंने कहा कि जो लोग रावण जला रहे हैं जनता अगले साल उन्हीं को जला देगी. उन्होंने कहा कि वैसे भी मैं रावण दहन कार्यक्रम में नहीं जाता हूं, मैं अपने क्षेत्र के किसी इलाके में रहता हूं और बीजेपी के दूसरे नेता जनप्रतिनिधि भी अपने लोगों की समस्याएं सुनने में लगे हैं.
पहले बीजेपी का रावण वध कार्यक्रम से दूरी बनाना और फिर रामकृपाल यादव का यह बयान स्पष्ट संकेत दे रहा है कि एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं है और दूरी लगातार बढ़ती जा रही है. दावे भले हीं किये जाते रहे हों की सबकुछ ठीक है लेकिन मौके दर मौके यह बात सामने आती रही है कि बीजेपी और जेडीयू के बीच सबकुछ ठीक नहीं है.
संदर्भ पढ़ें

No comments:

Post a Comment